Monday, May 10, 2021

Bali: Kailash Rahasya : Devender Pandey (बाली: कैलाश रहस्य : देवेन्द्र पांडेय)

देवेन पाण्डेय

बाली : कैलाश रहस्य- एक पाठकीय प्रतिक्रिया

आज श्री देवेन्द्र पाण्डेय जी का उपन्यास बाली: कैलाश रहस्य पढ़ कर समाप्त किया। 

बाली: युग युगांतर प्रतिशोध इस सीरीज का उनका पहला उपन्यास था जो मैंने प्रकाशन के काफी समय बाद पढ़ा था लेकिन अबकी बार मैंने वो गलती नहीं की। 

पौराणिक मिथकों और इतिहास को आधार बनाकर उपन्यासकार श्री देवेन्द्र पाण्डेय जी ने बाली के रूप में एक सुपर हीरो या महामानव की परिकल्पना की है, जो वास्तव में अद्भुत है।

 बाली: युग युगांतर प्रतिशोध में भगवान राम के जीवन काल के समय के समानांतर घटनाएँ घटती हैं तो बाली: कैलाश रहस्य में महादेव सूक्ष्म रूप में कथा क्रम में समाये हैं। एक पुरातन रहस्य को कहानी में बडी बारीकी से पिरोया गया है और जब वो मिथकीय चरित्र गतिमान होता है तो कहर बरपा कर देता है।

इस बार बाली का मुकाबला जिनसे हैं वो पहले उपन्यास से भी कई दर्जे ऊपर है। विस्तार से चर्चा करना दूसरे पढ़ने वालों के लिए स्पॉइलर हो सकता है इसीलिए बस इतना ही कहूंगा कि आप चकित रह जाएंगे।

कथानक का अंत मुझे बेहद मनोरंजक लगा और किसी भी विदेशी एक्शन फिल्मों को मात देता लगा। अगर कोई  पाठक विशुद्ध और स्तरीय मनोरंजन चाहता है तो बाली से बेहतर शायद ही कोई हो।

इस श्रृंखला को पठनीय के साथ संग्रहणीय की श्रेणी में भी रखना चाहूंगा क्योंकि एक बार में प्यास नहीं बुझेगी। 

कहानी अपने आप में सम्पूर्ण है पर पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त। बाली से अगली मुलाकात का बेसब्री से इंतजार रहेगा। 
इस मनोरंजक कथानक के लिए देवेन्द्र पांडेय जी बहुत बहुत धन्यवाद और भविष्य के लिए हार्दिक शुभकामनाएं

Friday, May 7, 2021

Raakh: The Ash Trail : Jitender Nath

उपन्यास : राख  द ऐश ट्रेल
लेखक : जितेन्द्र नाथ
प्रकाशन : बूकेमिस्ट (सूरज पॉकेट बुक्स इंप्रिंट)
बुक कवर डिज़ाइन: निशांत मौर्य
प्रथम संस्करण: अप्रैल 2021
पृष्ठ संख्या : 216 
एडिशन : पेपरबैक
 संजय वर्मा जी की समीक्षा
★★★★★★★★★★★★★★★★
राख  द ऐश ट्रेल
लेखक – जितेन्द्र नाथ
प्रकाशन सूरज पॉकेट बुक्स
पृष्ठ संख्या 307
इस उपन्यास के लेखक ने इस के पहले जेम्स हेडली चेस के "सुकर पंच"  का हिंदी अनुवाद किया था जो सभी के द्वारा बेहद पसंद किया जा रहा है इसके बाद
यह लेखक का प्रथम उपन्यास है जो पढ़ने के बाद कही से नही लगता की यह प्रथम उपन्यास है क्योकि उपन्यास शुरू से अंत तक रोचक है और लेखक ने इसमें पाठकों के स्वाद का भरपूर ध्यान रखा है। और पाठकों को भी अपना दिमाग लगाने का भरपूर मौका मिलने वाला है।

कहानी की बात करे तो 
प्रेम नगर में एक ढाबे के पास बहुत बुरी जली हुई अवस्था मे एक आदमी की लाश मिलती है जिसकी शिनाख्त करना भी मुश्किल है  और इसके बाद इंस्पेक्टर रणवीर कालीरमण और उसका असिस्टेंट रोशन वर्मा इसकी इन्वेस्टीगेशन शुरू करते है । लेकिन कहानी में ट्विस्ट आता है जब इन्वेस्टिगेशन जैसे जैसे आगे बढ़ती है केस और उलझता जाता है और हत्याएं होना शुरू हो जाती है  जिसे सबूत के नाम पर  सिर्फ मात्र  ‘राख’  के सहारे इसको इंस्पेक्टर रणवीर सुलझाता है तो उसके सामने रहस्यमय खुलासे होते है।
उपन्यास में इन्वेस्टिगेशन कमाल की है जिसमे लेखक ने भरपूर मेहनत की है जिसे पाठक पढ़ेंगे तो स्वयं "दाद" दिए बिना नही रहेंगे।
एक उलझा हुआ और नया थ्रिलर कथानक जिसमे पाठकों को दिमागी खुराक मिलने वाली है ।
उपन्यास किंडल पर भी उपलब्ध है।
रेटिंग 4/5
______________________________________________
समीक्षा : नवनीश भट्टी जी 
राख  ...द ऐश ट्रेल
लेखक – जितेन्द्र नाथ जी
प्रकाशन ...सूरज पॉकेट बुक्स
पृष्ठ संख्या... 216

इस उपन्यास के लेखक ने इस के पहले जेम्स हेडली चेस के "The Sucker Punch" का हिंदी अनुवाद "पैसा ये पैसा "किया था जो सभी पाठकों द्वारा बेहद पसंद किया जा रहा है इसके बाद
यह लेखक का प्रथम उपन्यास है लेकिन उपन्यास पढ़ते समय आपको एक परिपक्व लेखन शेली की झलक मिलेगी उपन्यास पढ़ने के बाद कही से नही लगता की यह लेखक का प्रथम उपन्यास है क्योकि उपन्यास शुरू से अंत तक रोचक है और लेखक ने इसमें पाठकों के स्वाद का भरपूर ध्यान रखा है और उपन्यास पढऩे वालों को भी अपना दिमाग लगाने का भरपूर मौका मिलने वाला है।

उपन्यास की कहानी की बात करे तो ...
प्रेम नगर में एक ढाबे के पास बहुत बुरी जली हुई अवस्था मे एक आदमी की लाश मिलती है जिसकी शिनाख्त करना भी मुश्किल है  और इसके बाद इंस्पेक्टर रणवीर कालीरमण और उसका असिस्टेंट रोशन वर्मा इसकी इन्वेस्टीगेशन शुरू करते है । लेकिन कहानी में ट्विस्ट आता जब  ऐसी ही जली हुई एक और लाश मिलती है इन्वेस्टिगेशन जैसे जैसे आगे बढ़ती है केस और उलझता जाता है और हत्याएं होनी शुरू हो जाती है  जिसे सबूत के नाम पर  सिर्फ मात्र  ‘राख’  के सहारे इसको इंस्पेक्टर रणवीर सुलझाता है तो उसके सामने रहस्यमय खुलासे होते है।लेखक महोदय ने पुलिस की कार्य प्रणाली का इतना सटीक व सजीव वर्णन किया है जिस तरह का क्राइम फिक्शन लिखने वाले सिरमौर लेखक जनाब श्री SMP साहब के उपन्यासों मे मिलता है
उपन्यास अपने उद्देश्य में पूरी तरह से सफल रहा पाठकों को अंत तक पता नहीं चलता की कत्ल किस वजह से हो रहे है और कातिल कौन है उपन्यास का अंत रोचक और भावपूर्ण है । आगे लेखक महोदय से उम्मीद की जाती है कि  इंस्पेक्टर रणवीर और उसके साथी सहकर्मियों ,डॉक्टर नवनीत और पत्रकार वरुण से फिर मुलाकात होगी।
इस बेहतरीन रचना के लिए लेखक महोदय का दिल से आभार तथा भावी रचना की सफलता के लिए आग्रिम शुभकामनाएं । कृपया "शोरे गोगा" का रहस्य आगे जरूर खोलें ।यह उपन्यास किंडल पर भी उपलब्ध है।धन्यवाद आभार🌹🙏🏻
-------------------------------------------------------------------------
श्री मनेंद्र त्रिपाठी जी की एक पुस्तक समूह जूनून पुस्तकों का, 
Jasusi novel sansar ( आज़ाद ग्रुप ) में शेयर की गई समीक्षा: 

- सड़क किनारे मिले एक "जली लाश" से कहानी की शुरुआत होती है । इंस्पेक्टर रणवीर की हिस्से कातिल की पहचान का जिम्मा आता है । उसके बाद शुरू होता है ,एक बेहद दिलचस्प थ्रिलिंग अनुभव । बिल्कुल नए जमाने का इन्वेस्टीगेशन । एक के बाद एक कत्ल ।

एक ऐसा उपन्यास जिसमे कत्ल होने वालों को मरते वक्त तक भी पता नहीं चलता कि उसे कौन मार रहा है और क्यों मार रहा है ।

माननीय जितेंद्र नाथ जी का यह पहला "उपन्यास " है , परंतु उनके इस उपन्यास को पढ़कर आप आश्चर्य में पढ़ जाएंगे । इस उपन्यास को आप सच्चे मायनों में असली मर्डर इन्वेस्टीगेशन उपन्यास बोल सकते हैं । सब कुछ वास्तविकता से भरा हुआ । पुलिस की कार्य प्रणाली का इतना सजीव वर्णन शायद ही इस से पहले किसी लेखक ने लिखा हो ।
रणवीर का एक अभियुक्त की गिरफ्तारी का वारंट के लिए जज के पास जाने वाला सीन कमाल का है । कहानी की रफ्तार अचानक से किसी मूवी जैसी हो जाती है । कई अद्भुत चरणों से गुजरते हुए  मूवी  की तरह ही क्लाइमेक्स आता है और पाठक चकित रह जाता है ।

उपन्यास अपने उद्देश्य में पूरी तरह से सफल रहा ।
इस बेहतरीन रचना के लिए लेखक महोदय का दिल से आभार तथा भावी रचना की सफलता के लिए एडवांस में बधाईयां । कृपया "शोरे गोगा" का रहस्य आगे जरूर खोलें । Jitender Nath जी🙏🌹👏
______________________________________________
 Raakh : The Ash Trail (Hindi Edition) by Jitender Nath
Kindle link:
https://www.amazon.in/dp/B093FR4696/ref=cm_sw_r_wa_awdb_7YCMZCYZ7X8GX22VCF40
Amazon link:
 https://www.amazon.in/dp/B09343BDPH/ref=cm_sw_r_wa_awdb_imm_KP0SM0FT9YFB9S8BT41W
Sooraj Books link:
 https://www.soorajbooks.com/product/raakh/

Sunday, February 14, 2021

Paisa ye paisa : Review by Aman Singh


 Paisa ye Paisa : Translation of James Headley Chase Novel The Sucker Punch

Review By Aman Singh

आपकी समीक्षा और प्रोत्साहन के लिए के लिए तहेदिल से शुक्रिया Aman Singh जी। 

पैसा ये पैसा...सूरज पॉकेट बुक्स और अमेज़न पर पेपरबैक/ebook फॉरमेट में उपलब्ध


https://www.amazon.in/dp/B08L1BCVYP/ref=cm_sw_r_wa_apa_JUNGFbP9045GA

या

https://www.soorajbooks.com/shop/

या

https://www.amazon.in/dp/9388094441/ref=cm_sw_r_cp_apa_i_gkRCFbTSXTQZM

पुस्तक की भूमिका का अंश :- अपनी बीच-हट की खुली खिड़की से, चैट मंद-मंद लहरों पर उफनते झाग और धूप में दूर तक बिखरी हुई तपती सुनहरी रेत को देख सकता था। उसकी दाईं ओर दूर पहाड़ी थी, जिस पर वह बल खाती सड़क थी जिससे लेरी को आना था। बीच-हट में बहुत गर्मी थी। बिजली का पंखा लगातार फरफरा रहा था और चैड के दमकते हुए चेहरे पर हवा फेंक रहा था। उसने अपना कोट उतार दिया और बाँहे ऊपर चढ़ा ली। उसके ताकतवर और मजबूत हाथ मेज पर टिके हुए थे और सिगरेट उपेक्षित-सी उंगलियों में सुलग रही थी। 


पुस्तक:- पैसा ये पैसा 

जेम्स हेडली चेइज़ के प्रसिद्ध उपन्यास 'सकर पंच' का हिंदी अनुवाद

अनुवाद:- श्री जितेंद्र नाथ जी

प्रकाशन:- सूरज पॉकेट बुक्स, ठाणे 

संस्करण:- अगस्त 2020 (प्रथम)

पृष्ठ:- 226

मूल्य:- 200 रुपये (पेपरबैक)


पुस्तक के कवर से :- एक खूबसूरत औरत की चाहत चैट विंटर को कुछ ऐसा करने के लिए प्रेरित करती है जो उसके हिसाब से एक परफेक्ट मर्डर था। हालांकि मर्डर करना कितना आसान होता है उसे छिपाना उतना ही मुश्किल...


पुस्तक पर मेरे निजी विचार:- मेरे अपने मत में आदरणीय श्री जितेंद्र नाथ जी ने जेम्स हेडली चेइज़ के उपन्यास सकर पंच का बेहद ही शानदार हिंदी अनुवाद किया है। जहां एक ओर यह पुस्तक बाहर से देखने में आकर्षित लगती है तो वहीं दूसरी ओर इसको पढ़ने में भी हमें ठीक वैसे ही आकर्षण प्रतीत होता है। बिल्कुल सटीक शब्दों और स्पष्ट भाषा शैली की झलक साफतौर पर इस पुस्तक को पढ़ने पर देखी जा सकती है। जैसा कि इस पुस्तक के नाम से प्रतीत होता है वैसा ही इस पुस्तक में पैसा है, पैसे के लिए धोखा है और पैसे के लिए हत्या भी है। कुल मिलाकर यह पुस्तक खुद में अनगिनत रहस्यों का खज़ाना समेटे हुए हैं। मैं आदरणीय श्री जितेंद्र नाथ जी को  इस पुस्तक के   अनुवाद के लिए  ढेर सारी  शुभकामनाएं देता हूं व वही  ईश्वर से उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना भी करता हूं। कुल मिलाकर मुझे तो यह पुस्तक बहुत ही अच्छी लगी। अगर आप भी थ्रिलर पढ़ने के शौकीन है तो इस पुस्तक को जरूर पढ़ें।

---------------------------------------------------------------------



Friday, February 12, 2021

Om Parkash Sharma Novel's list

जनप्रिय लेखक ओम प्रकाश शर्मा जी के द्वारा लिखे गए उपन्यासों की सूची:
आप उनके उपन्यास www.omparkashsharma.com पर जाकर भी पढ़ सकते हैं।
1 - अंजाम खुदा जाने 
‌2 - अंधेर नगरी  
‌3 - अँधेरे का रहस्य 
‌4 - अँधेरी रात की चीखें
‌5 - अँधेरे के दीप
‌6 - अपना अपना प्यार 
‌7 - अपने देश का अजनबी 
‌8 - अपने देश में 
‌9 - अपराध बोलता है 
‌10 - अभागी की डायरी 
‌11 - अभिनेता का खून 
‌12 - अम्बापुर काण्ड 
‌13 - अमरीकी साज़िश 
‌14 - अरब सागर के लुटेरे 
‌15 - आंसू नहीं मुस्कान
‌16 - आखिरी दाँव (जय पराजय सीरीज)
‌17 - आग से मत खेलो 
‌18 - आगे भी अँधेरा पीछे भी अँधेरा 
‌19 - आज के डकैत 
‌20 - आदमखोर 
‌21 - आदमखोर जानवर 
‌22 - आदमी का जहर 
‌23 - आधी रात के बाद 
‌24 - आधी रात के सौदागर 
‌25 - ऑपरेशन कालभैरव 
‌      आस्तीन का पिशाच 
‌26 - इंटरनेशनल जगत 
‌27 - इंसानी बस्ती के भेड़िये  
‌28 - इधर रहमान उधर बेईमान
‌29 - उंगलियों के  सौदागर 
‌30 - उड़न तश्तरी 
‌31 - उस रात का चमत्कार 
‌32 - ए 54 की वापसी 
‌33 - एक इन्सान दो चेहरे 
‌34 - एक और तीन तेरह 
‌35 - एक और षड़यंत्र 
‌36 - एक खजाना चार सांप 
‌37 - एक तीर दो शिकार 
‌38 - एक नवाब पन्द्रह चोर 
‌39 - एक अपराध कितने अपराधी 
‌40 - एक अफसर की मौत 
‌41 - एक और विषकन्या 
‌42 - एक गोली तीन चीख 
‌43 - एक जिद्दी लड़की 
‌44 - एक दिन की मौत 
‌45 - एक नार अलबेली सी (सुहाग की साँझ)
‌46 - एक रात
‌47 - एक रात का मेहमान 
‌48 - एक रात तीन हत्या 
‌49 - एक लाश तीन हत्यारे 
‌50 - एक लाश तीन टुकड़े 
‌51 - एमरजेंसी 
‌52 - ऐसा भी होता है 
‌53 - औरतों का शिकार 
‌54 - कंचनगढ़ की सराय 
‌55 - कंवारी रात का सपना
‌56 - क्लब में हत्या 
‌57 - क्या बहार आयेगी 
‌58 - क्या वह खूनी था?
‌59 - कटे हुए सिर 
‌60 - कफ़न चोर 
‌61 - कब्रिस्तान की चीखें 
‌62 - कब्रिस्तान का रहस्य 
‌63 - कब्रिस्तान का षड़यंत्र 
‌64 - कम्पाला का कैदी 
‌65 - कमालपुर में चमत्कार 
‌66 - क़यामत के दिन 
‌67 - करोड़पति की हत्या 
‌68 - कलियुगी जासूस जगन 
‌69 - कातिल चेहरे 
‌70 - कांपते हाथ 
‌71 - कान्ता 
‌72 - कानून क्या कर लेगा 
‌73 - कानून की लड़ाई 
‌74 - काबुल का कब्रिस्तान 
‌75 - काल कोठरी 
‌76 - काली कब्र 
‌77 - काली बिल्ली 
‌78 - किले की रानी 
‌79 - किस्सा एक खानदानी हवेली का 
‌80 - किले में भटकती आत्मा 
‌81 - कितना बड़ा झूठ 
‌82 - कुलदेवी का रहस्य 
‌83 - केसरीगढ़ की काली रात 
‌84 - कोठे वाली की हत्या
‌85 - खजाने का खूनी  नक्शा ​
‌86 - खतरनाक खेल 
‌87 - खतरे की घन्टी 
‌88 - खूनी औरत भयानक मर्द 
‌89 - खून का रिश्ता 
‌90 - खून की दस बूंदें 
‌91 - खून के सौदागर 
‌92 - खूनी की खोज 
‌93 - खूनी कौन
‌94 - खूनी जासूस 
‌95 - खूनी तांत्रिक 
‌96 - खूनी नर्तकी 
‌97 - खूनी दौलत 
‌98 - खूनी पुल 
‌99 - खूनी मीनार 
‌100 - खूनी साजिश 
‌101 - खूनी सुन्दरी 
‌102 - खूनी वारदात
‌103 - गगन द्वीप 
‌104 - गजनी का सुल्तान 
‌105 - गुंडा राज 
‌106 - गुप्त खजाना 
‌107 - गोपाली की वापसी 
‌108 - गोपाली दुश्मनों के जाल में 
‌109 - गुलामों का देश 
‌110 - घिनौना समाज 
‌111 - चकमक का किला
‌112 - चक्रम गायब 
‌113 - चक्रम डाकुओं के  चक्कर में 
‌114 - चमकती बिजली तड़पती मौत 
‌115 - चम्पाकली 
‌116 - चम्पा के फूल (सेज के फूल जले)
‌117 - चम्पापुर का डाक बंगला (डाकबंगले में प्रेत)
‌118 - चमेली (हत्यारा सेठ)
‌119 - चलती फिरती लाश 
‌120 - चिड़ी का इक्का 
‌121 - चित्रकार की प्रेमिका 
‌122 - चीखती लाशें 
‌123 - चीते वाली युवती 
‌124 - चुनौती (वासना के पुजारी)
‌125 - छावनी में विस्फोट 
‌126 - छोटी बेगम 
‌127 - छोटी मछली बड़ी मछली 
‌128 - छुपे चेहरे 
‌129 - छुपा रुस्तम 
‌130 - ज्वालामुखी द्वीप का देवता 
‌131 - जंगल की ज्वाला 
‌132 - जंगली शेर 
‌133 - जंगल का फ़रिश्ता 
‌134 - जंगल का मकबरा 
‌135 - जलता हुआ समुद्र 
‌136 - जगत और काहिरा का जादूगर
‌137 - ​जगत गायब ​
‌138 - जगत और खूनी सुल्तान 
‌139 - जगत और तांत्रिक 
‌140 - जगत और तीन जुआरी 
‌141 - जगत बांग्लादेश में 
‌142 - जगत लन्दन में 
‌143 - जगत और समुद्री पिशाच 
‌144 - जगन गंगा की बाढ़ में 
‌145 - जगत (शैतान की घाटी)
‌146 - जगत अफ्रीका में 
‌147 - जगत अमेरिकन जासूस के फंदे में 
‌148 - जगत और जादूगरनी 
‌149 - जगत और खूनी वैज्ञानिक 
‌150 - जगत की इस्ताम्बुल यात्रा 
‌151 - जगत की पाकिस्तान यात्रा 
‌152 - जगत की भारत यात्रा  
‌153 - जगत की वियतनाम यात्रा 
‌154 - जगत खतरे में 
‌155 - जगत मौत के घेरे में 
‌156 - जगत का प्रतिशोध 
‌157 - जगत का इन्साफ
‌158 - ​जगत और जंगली शैतान ​
‌159 - जगत और चम्पा डकैत 
‌          जगत और जालसाज 
‌160 - जय और पराजय 
‌161 - जादूगर जमाल पाशा 
‌162 - जादूगरनी 
‌163 - जादूगर का प्रेत 
‌164 - जादूगर कामरान 
‌165 - जादूगर भुवन 
‌166 - जालसाज 
‌167 - जुआघर की नर्तकी (जगत जुआघर में)
‌168 - जिन्दा लाश 
‌169 - जिंदगी या मौत 
‌170 - जीवित प्रेत 
‌171 - जुल्म और नहीं 
‌172 - जेल में षड़यंत्र 
‌173 - झांसी रोड 
‌174 - ट्रांसमीटर की खोज 
‌175 - टाइम बम 
‌176 - टापू का कैदी 
‌177 - टार्जन का ​गुप्त ​खजाना 
‌178 - ट्रेन में लाश 
‌179 - ट्रेन डकैती के अपराधी 
‌180 - ठग और सुंदरी 
‌181 - डाकबंगले में प्रेत
‌182 - डाक्टर प्रेत 
‌183 - डायन
‌184 - ​​डाकू की बेटी ​
‌185 - ढाई किलोमीटर दूर 
‌186 - ढाकवन की डकैती 
‌187 - ढोल की पोल
‌188 - तालाब में लाश 
‌189 - ताश के तीन पत्ते 
‌190 - तिरछी नजर 
‌191 - तीन गायब 
‌192 - तीन नागिन + हेम्बू का मसीहा 
‌193 - तीन शैतान 
‌194 - तीसरे महायुद्ध का अपराधी 
‌195 - तुम्हारी कसम 
‌196 - तूफान आने वाला है 
‌197 - तूफान की रात 
‌198 - तूफान के बाद (मौत का तूफान)
‌199 - ​तूफान फिर आया 
‌200 - थाईलैंड में जगत 
‌201 - दांव पेच  (सफ़ेद अपराधी)
‌202 - दिल के आर पार (​राजेश तारा के ​प्रेम पत्र )
‌203 - दुखियारी की प्रीत 
‌204 - दुश्मन के देश में 
‌205 - दूसरा ताजमहल 
‌206 - देशद्रोही वैज्ञानिक 
‌207 - देशद्रोही वैज्ञानिक की वापसी 
‌208 - देश के दुश्मन 
‌209 - दो जिंदगी 
‌210 - दो प्रेत 
‌211 - दौलत और पाप 
‌212 - दौलत के दीवाने 
‌213 - धडकनें 
‌214 - नए शिकारी 
‌215 - नकाब के पीछे 
‌216 - नजाकत बेगम 
‌217 - नयनतारा 
‌218 - नया जाल पुराने शिकारी 
‌219 - नया संसार 
‌220 - नरभक्षी 
‌221 - निर्दोष खूनी  (अम्बापुर काण्ड)
‌222 - निषेध पथ 
‌223 - नीली घोड़ी का सवार 
‌224 - नीली छतरी 
‌225 - नीली ज्योति का रहस्य 
‌226 - नी​ले ​पर्वत 
‌227 - नीली साड़ी वाली लड़की 
‌228 - नूपुर के गीत (रुनझुन पायल बाजे)
‌229 - नूरजहाँ का नेकलेस 
‌230 - नूरबाई 
‌231 - नूरबानो का प्रेत 
‌232 - ​पर्दे के आगे ​पर्दे के पीछे 
‌233 - पहली पराजय
‌234 - ​​प्यार का संसार  (स्नेह दीप) ​
‌235 - पत्रकार की हत्या 
‌236 - प्रलय की सांझ
‌237 - पांच करोड़ का हीरा 
‌238 - पांचवी बहू 
‌239 - पागल वैज्ञानिक 
‌240 - पाप और छाया 
‌241 - पाप की गली 
‌242 - पाप की परछाई 
‌243 - पापी धर्मात्मा 
‌244 - पिशाच और केबरे डांसर 
‌245 - पिशाच सुंदरी 
‌246 - पिशाच सुंदरी की वापसी 
‌247 - पिंजरे का कैदी 
‌248 - प्रिया 
‌249 - पी कहाँ 
‌250 - पीली हवेली 
‌251 - पुजारी की हत्या 
‌252 - प्रेत की छाया 
‌253 - प्रेत की प्रेमिका 
‌254 - प्रेम पत्रों का षड़यंत्र 
‌255 - प्रेतों की दुनिया 
‌256 - पेशावर एक्सप्रेस 
‌257 - प्रेतात्मा की गवाही 
‌258 - पुराने शिकारी नया जाल 
‌259 - प्रोफेसर गगन 
‌          प्यार और पाप 
‌           प्यार का बंधन टुटे ना
‌260 - फ़रिश्ते की मौत 
‌261 - फ़रिश्ता और शैतान 
‌262 - फिरौती पांच करोड़ 
‌263 - बंदरगाह पर खून 
‌264 - बंद दरवाजे के पीछे 
‌265 - ब्लैक स्ट्रीट 
‌266 - बदला 
‌267 - बदले की आग 
‌268 - बाबा विलियम और तीन लड़कियां 
‌269 - बिकाऊ है खरीदार चाहिए 
‌270 - बेगम गुलनार का प्रेमी 
‌271 - बेगम का खजाना 
‌272 - बेनकाब कातिल 
‌273 - बैरिस्टर का प्रेत 
‌274 - भयानक कैदी 
‌275 - भयानक प्रतिशोध 
‌276 - भयंकर जाल 
‌277 - भाभी 
‌278 - भाग्य की शिकार 
‌279 - भीगी रात 
‌280 - भुवन कश्मीर में
‌281 - भुवन मौत की घाटी में
‌282 - भूतनाथ की वापसी 
‌283 - भूतनाथ लखनऊ में 
‌284 - भूतनाथ नई दिल्ली में 
‌285 - भूतनाथ की संसार यात्रा 
‌286 - भुवन और समुद्र की रानी 
‌287 - मंगोल सुंदरी 
‌288 - मकड़ी की सुरंग 
‌289 - मगरमच्छ का शिकार 
‌290 - मठ का रहस्य 
‌291 -  महल में डकैती 
‌292 - महल में प्रेत 
‌293 - महाकाल वन की डकैत
‌294 - महामाया की मूर्ति 
‌295 - महारानी एक्सप्रेस 
‌296 - माधवपुर हत्याकांड 
‌297 - माधुरी 
‌298 - मिस ग्रे कूपर 
‌299 - मुर्दे की अदालत 
‌300 - मुर्दे की अंगूठी 
‌301 - मुर्दों का महल 
‌302 - मुरझाये फूल फिर खिले 
‌303 - मुराद महल 
‌304 - मूर्ति की चोरी 
‌305 - मेजर अली रजा की डायरी 
‌306 - मैडम कलकत्ता  
‌307 - मैडम सुमित्रा 
‌308 - मोतियों की चोरी 
‌309 - मौत एक अजनबी की
‌310 - ​मौत की कोठरी +(होटल रंगशाला/ बदनाम होटल)​
‌311 - मौत का निशान (शैतानों का देश) ​?​
‌312 - मौत की घाटी 
‌313 - मौत की परछाइयां 
‌314 - मौत की मंजिल 
‌315 - मौत के बादल 
‌316 - मौत का बिजनेस 
‌317 - मौत बुलाती है 
‌318 - मौत का अँधेरा 
‌319 - मौत ​की धमकी ​
‌320 - मौत का त्रिशूल 
‌321 - यह आम रास्ता नहीं है 
‌322 - रंगकोट का रेस्ट हाउस 
‌323 - रति मंदिर का रहस्य 
‌324 - रहस्य 
‌325 - रहस्य की एक रात 
‌326 - रहस्यमय वैज्ञानिक 
‌327 - रहस्यमयी 
‌328 - राजगुरु 
‌329 - राजमहल का षड़यंत्र 
‌330 - राजा साहब की वसीयत 
‌331 - राजेश तारा के प्रेम पत्र 
‌332 - रात अँधेरी थी 
‌333 - रात की रानी 
‌334 - रात के अँधेरे में 
‌335 - राधा पैलेस हत्याकाण्ड 
‌336 - रानी महालक्ष्मी 
‌337 - रानी नागिन 
‌338 - राहुल राजपुरुष 
‌339 - रावजी गढ़ी का खजाना 
‌340 - रूपमहल का कैदी 
‌341 - रेगिस्तानी डाकू
‌342 - ​रुक जाओ निशा ​
‌343 - लखनऊ हत्याकाण्ड 
‌344 - लखनवी जासूस 
‌345 - लापता लाश 
‌346 - लापता हवाई जहाज 
‌347 - लाल सिग्नल 
‌348 - लाशों के व्यापारी 
‌349 - लूट सके तो लूट 
‌350 - लेडी शिकागो 
‌351 - वसीयतनामे की खोज 
‌352 - वसीयतनामे का मुकदमा 
‌353 - वह भयानक रात 
‌354 - वह पाकिस्तानी जासूस थी 
‌355 - वासना के पुजारी 
‌356 - विक्रमकोट में षड़यंत्र 
‌357 - विचित्र मानव 
‌358 - विधायक की हत्या 
‌359 - विषकन्य360 - विष किरण 
‌361 - वेश्या का कातिल 
‌362 - वेश्या का खून 
‌363 - वैरागी नाले का रहस्य 
‌364 - वैरागी का खजाना 
‌365 - वो लजाये मेरे सवाल पर 
‌366 - शंघाई की सुन्दरी 
‌367 - शमशान में संघर्ष 
‌368 - शह और मात 
‌369 - शहजादी गुलबदन 
‌370 - शिकारी का प्रेत 
‌371 - शिकारी पिंजरे में
‌372 - शैतान की कब्र 
‌373 - शैतान का शिकंजा 
‌374 - शैतान वैज्ञानिक 
‌375 - शैतानों ​का देश ​
‌376 - शैतान की घाटी 
‌377 - षड़यंत्र चक्र 
‌378 - सफ़र के साथी 
‌379 - सफ़ेद पिशाच 
‌380 - सबसे बड़ा झूंठ 
‌381 - सबसे बड़ा पाप 
‌382 - सभ्य हत्यारा 
‌383 - समाज के कलंक 
‌384 - समुद्र में नर्क 
‌385 - समुद्री सौदागर 
‌386 - स्काउट कैंप में हंगामा 
‌387 - स्मगलर की लड़की 
‌388 - स्नेह दीप 
‌389 - स्वर्ग नर्क 
‌390 - सांझ हुई घर आये 
‌391 - सांझ का सूरज 
‌392 - सांप और सुन्दरी 
‌393 - सांप और सीढ़ी 
‌394 - सात खूनी 
‌395 - सात लाशें 
‌396 - सी आई ए का जाल 
‌397 - सुनहरे बाल नीली आंखें 
‌398 - सुंदरवन में षड़यंत्र 
‌399 - सुधाकर हत्याकांड 
‌400 - सुल्तान नादिर खां 
‌401 - सुहाग की सांझ 
‌402 - सैक्शन नम्बर 3 
‌403 - ​ सोना और सागर 
‌404 - हत्यारा सेठ 
‌405 - हत्या या आत्महत्या 
‌406 - हत्यारे की प्रेमिका 
‌407 - हत्यारे का नाम नहीं होता 
‌408 - हिज हाइनेस की हत्या 
‌409 - हिमालय की आग 
‌410 - हेम्बू का मसीहा 
‌411 - होटल की नर्तकी 
      412 - होटल में एक रात 
‌413 - होटल में डकैती 
‌414 - होटल रंगशाला

Saturday, January 9, 2021

Ved Parkash Sharma। list of novels



 वेद प्रकाश शर्मा जी का जन्म 10 जून 1955 को हुआ था।आग के बेटे उनका प्रथम उपन्यास था जिसके मुखपृष्ठ पर वेद प्रकाश शर्मा का पूरा नाम छापा गया। उसी साल ज्योति प्रकाशन और माधुरी प्रकाशन दोनों ने उनके नाम के साथ  फोटो भी छापना शुरू कर दिया। कैदी नं. 100 उनका सौवाँ उपन्यास था जिसकी बकी 2,50,000 प्रतियां छपने के दावा किया जाता है।

इसके बाद उन्होंने 1985 में खुद अपना प्रकाशन शुरू किया: तुलसी पॉकेट बुक्स। उनके कुल 176 उन्यासों में से 70 इसी ने छापे हैं. लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा लोकप्रियता 1993 में वर्दी वाला गुंडा से मिली जिसके बारे में दावा है कि 15 लाख प्रतियां पहली बार छापी गई थीं। 

1985 में उनके उपन्यास "बहू मांगे इंसाफ" पर शशिलाल नायर के निर्देशन में "बहू की आवाज" फिल्म बनी। इसके दस साल बाद सबसे बड़ा खिलाड़ी (उपन्यास लल्लू ) और 1999 में इंटरनेशनल खिलाड़ी बनी। मजेदार बात यह कि उन्होंने बाद की दो फिल्मों का स्क्रीनप्ले और डायलॉग खुद लिखे लेकिन सिर्फ फिल्म के लिए कोई कहानी कभी नहीं लिखी। बालाजी टेलीफिल्म्स का सीरियल केशव पंडित इसी नाम के नॉवेल पर आधारित था ।

17 फरवरी 2017 को इस लोकप्रिय उपन्यासकार का आकस्मिक निधन हो गया।


वेदप्रकाश शर्मा के उपन्यास  
1. दहकते शहर
1. आग के बेटे
2. खुनी छलावा              (प्रथम भाग)
3. छलावा और शैतान     (द्वितीय भाग)
4. विकास और मैकाबर        (प्रथम भाग)
5. विकास मैकाबर के देश में (द्वितीय भाग)
6. मैकाबर का अंत              (तृतीय भाग)
7. प्रलयंकारी विकास
8.  एक मुट्ठी दर्द
9. अपराधी विकास        (प्रथम भाग)
10. मंगल सम्राट विकास  (द्वितीय भाग)
11. विनाशदूत विकाश     (प्रथम भाग)
12. विकास की वापसी     (द्वितीय भाग)
13. विजय और विकास
14. महाबली टुम्बकटू        (प्रथम भाग)
15. विकास दी ग्रेट           (द्वितीय भाग)
16. पहली क्रांति     (प्रथम भाग)
17. दूसरी क्रांति     (द्वितीय भाग)
18. तीसरी क्रांति    (तृतीय भाग)
19. क्रांति का देवता (चतुर्थ भाग)
20. हीरो का बादशाह
21. पाकिस्तान का बदला
22. प्रिंसेस जैक्सन का देश
23. सी आई ए का आतंक
24. रहस्य की बीच
25. आयरन मन
26. सिंगही और मर्डरलैंड
27. बदसूरत
28. सुमन
29. अर्थी मेरे प्यार की
30. राखी और सिंदूर
31. आलपिन का खिलाडी
32. सफ़ेद चूहा
33. दौलत पर टपका खून
34. कोबरा का दुशमन
35. इंकलाब का पुजारी
36. सब से बड़ा जासूस
37. चीते का दुश्मन
38. विश्व विजेता
39. तीन तिलंगे (प्रथम भाग)
40. आग लगे दौलत को (द्वितीय भाग)
41. शहीदों की चिता (प्रथम भाग)
42. खून की धरती    (द्वितीय भाग)
43. तिरंगा झुके नहीं
44. वतन की कसम      (दो भाग)
45. खून दो आजादी लो (प्रथम भाग)
46. बिच्छू                     (द्वितीय भाग)
47. लाश कहाँ छुपाऊ.   (प्रथम भाग)
48. कानून मेरे पीछे       (द्वितीय भाग)
49. वतन                     (प्रथम भाग)
50. गुलिस्ता खिल उठा  (द्वितीय भाग)
51. दौलत है ईमान है मेरा
52. आ बैल मुझें मार
53. देवकांता सन्तति (भाग 1-2)
54. देवकान्ता सन्तति (भाग 3-4)
55. देवकान्ता सन्तति (भाग 5-6)
56. देवकान्ता सन्तति (भाग 7-8)
57. देवकान्ता सन्तति (भाग 9-10)
58. देवकान्ता सन्तति (भाग 11-12)
59. देवकान्ता सन्तति (भाग 13-14)
60.जजमेंट
61. हिन्द का बेटा
62. देश न जल जाये
63. कानून बदल डालो     (प्रथम भाग)
64. फांसी दो कानून को   (द्वितीय भाग)
65. जला हुआ वतन        (प्रथम भाग)
66. चीख उठा हिमालय   (द्वितीय भाग)
67. धरती बनी दुल्हन
68. विश्वयुद्ध की आग
69. चकमा
70. रुक गई धरती
71. कर्फ्यू                     (प्रथम भाग)
72. शेर का बच्चा          (द्वितीय भाग)
73. खून ने रंग बदला
74. हत्यारा कौन
75. माटी मेरे देश की
76. मत रो माँ                 (प्रथम भाग)
77. लाखों है लाल तेरे      (द्वितीय भाग)
78. गैंडा
79. क़त्ल ए आम
80. हिंसक      (प्रथम भाग)
81. दरिंदा        (द्वितीय भाग)
82. एक कब्र सरहद पर
83. जय हिन्द            (प्रथम भाग)
84. वंदे मातरम्         (द्वितीय भाग)
85. रणभूमि              ( प्रथम भाग)
86. गन का फैसला     (द्वितीय भाग)
87. एक और अभिमन्यु (प्रथम भाग)
88. सारे जहाँ से ऊँचा    (द्वितीय भाग)
89. सभी दीवाने दौलत के
90. इन्कलाब जिंदाबाद
91. दूध न बख्शुंगी
92. धर्मयुद्ध
93. बहु मांगे इंसाफ
94. साढ़े तीन घंटे
95. अलफांसे की शादी
96. कफ़न तेरे बेटे का
97. विधवा का पति
98. हत्या एक सुहागन की
99. कैदी न.100
100. इन्साफ का सूरज
101. दुल्हन मांगे दहेज़
102. सुलग उठा सिंदूर
103. मेरे बच्चे मेरा घर (प्रथम भाग)
104. आज का रावण   (द्वितीय भाग)
105. नसीब मेरा दुश्मन
106. औरत एक पहेली
107. कानून का पंडित. (यह केशव पण्डित सीरीज का उपन्यास नहीं है)
108. केशव पंडित - 1986   (प्रथम भाग)
109. कानून का बेटा            (द्वितीय भाग)
110. मांग में अंगारे
111. बीवी का नशा
112. विजय और केशव पंडित (प्रथम भाग)
113. कोख का मोती               (द्वितीय भाग)
114. सब से बड़ी साजिश
115. साजन की साजिश
116.भगवान न.दो                (1988)
117. सुहाग से बड़ा
118. चक्रव्यूह
119. जुर्म की माँँ      (प्रथम भाग)
120. कुबड़ा            (द्वितीय भाग)
121. दहेज़ में रिवॉल्वर (प्रथम भाग)
122. जादू भरा जाल     (द्वितीय भाग)
123. शीशे की अयोध्या
124. वर्दी वाला गुंडा
125. जिगर का टुकड़ा
126. लल्लू
127. रैना कहे पुकार के       (प्रथम भाग)
128. भस्मासुर                    (द्वितीय भाग)
129. मेरा बेटा सब का बाप  (प्रथम भाग)
130. पागल              ‌‌‌‌‌         (द्वितीय भाग)
131. मिस्टर चैलेंज
132. इंटर नेशनल खिलाड़ी   (screen play)
133. वो साला खदरवाला
134. कातिल हो तो ऐसा     (प्रथम भाग)
135. शाकाहारी खंजर       (द्वितीय भाग)
136. मदारी                     (तृतीय भाग)
137. फंस गया अलफांसे   (प्रथम भाग)
138. पंगा                        (द्वितीय भाग)
139. कारीगर
140. ट्रिक
141. कठपुतली
142. एक थप्पड़ हिंदुस्तानी (प्रथम भाग)
143. पाक साफ़.             (द्वितीय भाग)
144. गूंगा
145. डमरुवाला
146. असली खिलाड़ी
147. शिखंडी
148. राम बाण
149.  दूर की कौड़ी
150.
151. काला अंग्रेज (प्रथम भाग)
152.  फिरंगी         (द्वितीय भाग)
153.  खलीफा (153)
154. शंखनाद (154 वां उपन्यास)
155. क्योंकि वो बीवियां बदलते थे (155)
156. वेदमंत्र (156)
157. अंगारा (प्रथम भाग) (157)
158. शेखचिल्ली (द्वितीय भाग)(158)
159. हत्यारा मंगलसूत्र(159)
160. केशव पण्डित की वापसी
161. विजय के सात फेरे
162. केशव पण्डित की वापसी
163. विजय के सात फेरे (10 नवंबर 2008)
164. नौकरी डाॅट काॅम
165. खेल गया खेल
166. सुपरस्टार - प्रथम भाग(30 नंवबर 2010
167.  पैंतरा     - पैंतरा
168.  कश्मीर का बेटा (प्रथम भाग)
170.  चलते पुर्जे         (द्वितीय भाग)
171.  डायन (प्रथम भाग)
172.  डायन (द्वितीय भाग)
173.  सबसे बड़ी मर्डर मिस्ट्री  (2014)
174.  अपने कत्ल की सुपारी (15.01.2015)
175.  गद्दार देशभक्त
176. आॅनर किलिंग              15.06.2015
177.  छठी उंगली
178. भयंकरा - 2017, राजा पॉकेट बुक्स

Janpriya Lekhak Om Parkash Sharma : Andhere ke Deep : A Novel

  जनप्रिय लेखक ओम प्रकाश शर्मा : अंधेरे के दीप : एक प्रासंगिक व्यंग्य उपन्यास : अंधेरे के दीप   लेखक : जनप्रिय ओम प्रकाश शर्मा प्रकाशक...